Search
  • Noida, Uttar Pradesh,Email- masakalii.lifestyle@gmail.com
  • Mon - Sat 10.00 - 22.00

Tag Archives: शादी

..and after marriage your responsibilities also increase

शादी, जी हां, शादी किसी भी व्यक्ति के जीवन का बहुत अहम फैसला होता है। वहीं, शादी के बाद जिम्मेदारियां भी बढ़ जाती हैं । वैसे तो पति-पत्नी दोनों पर ही नई-नई जिम्मेदारियों का बोझ होता है लेकिन जहां लड़की अपने घर को छोड़कर इस नई दुनिया, नए संसार में आती है तो उससे उम्मीदें कुछ ज्यादा होती हैं ।

ससुराल वाले उससे उम्मीद रखते हैं कि वह रिश्तों, घर, परिवार और अपनी व्यक्तिगत जिंदगी में संतुलन बनाए रखेगी। ऐसे में लड़कियों का घबराना या डरना स्वाभाविक है क्योंकि उनके लिए उस घर में सब नया होता है। परिवार नया, घर नया और माहौल नया। ऐसे में उनके मन में अनेक सवाल उठते हैं कि क्या मैं ये सब कर पाऊंगी या क्या मैं इन सब की उम्मीदों पर खरी उतर पाऊंगी तो नई दुल्हन के इन स्वाभाविक से सवालों का जवाब आज हम लेकर आए हैं कुछ ऐसे टिप्स जिनसे नए ससुराल में नई दुल्हन सबकी चहेती बन जाएगी तो चलिए जानते हैं-

1. बड़े बुजुर्गों के साथ हमेशा बच्चों की तरह व्यवहार करें:

जी हां, जब भी आप अपनी ससुराल में जाते हैं तो वहां पर आपको अपने बुजुर्गों से बिल्कुल ऐसे व्यवहार करना है जैसे आप बच्चों के साथ करते हैं क्योंकि उस उम्र में हर बूढ़े का मन बच्चों जैसा हो जाता है इसलिए वह थोड़ा सा जिद्दी थोड़ा सा शरारती थोड़ा भावुक हो जाता है। इसलिए आप उसने हमेशा बच्चों जैसा बर्ताव करें ताकि उन्हें किसी भी मोड़ पर यह किसी भी परिस्थिति में ठेस ना पहुंचे।।

2. चेहरे पर मुस्कान है जरूरी:

जी हां, ससुराल में जाते ही आप अपने चेहरे पर सदैव मुस्कान बनाए रखें । किसी से भी मिले मुस्कान के साथ ही मिले। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि मुस्कान किसी का भी मन मोह लेती है इसलिए आप कभी किसी से मिलते समय बुरा बर्ताव न करें और हमेशा हर किसी से मुस्काते हुए मिलें।

3. ससुराल में ना केवल परिवार वालों का बल्कि रिश्तेदारों का भी उतना ही सम्मान करें:

जैसे कि आप परिवार में सब का मान और सम्मान रखते हैं। उसी तरह जब भी रिश्तेदार आपके घर आए उनकी भली-भांति स्वागत सत्कार करें और उनको उतना ही सम्मान दे जितना आप अपने परिवार के मेंबर्स को देते हैं।

4. जिम्मेदारियों को निभाना सीखे:

जब आप ससुराल जाती हैं तो ससुराल वालों को आप से बहुत सी उम्मीदें होती हैं और शादी के बाद आपकी जिम्मेदारियां भी बढ़ जाती हैं। इसलिए ऐसे में जरूरी है कि आप अपनी जिम्मेदारियां लेना सीखे और उनका भली-भांति निर्वाह करें।

5. नए घर में हर पल को बहुत खुशहाली से जिएं:

वैसे तो हर लड़की के लिए अपना घर छोड़कर ससुराल में जाना बहुत मुश्किल होता है लेकिन अब शादी के बाद यही उसका घर परिवार है इसलिए हमेशा ध्यान रखें कि हर पल को खुशहाली से जिए और अपने परिवार को भी खुशहाल बनाने की कोशिश करें।।

6. सारे काम खुद से करने की कोशिश ना करें:

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि ससुराल में जाने के बाद लड़कियों का घबराना स्वभाविक है उन्हें हमेशा यही लगता है कि यह सब मैं कैसे कर पाऊंगी लेकिन इसी के बीच हम आपको यह सलाह देते हैं कि जितना भी आप काम करें मन लगाकर करें अगर आपको काम की अधिकता का एहसास हो तो किसी की मदद जरूर लें क्योंकि सारे काम अकेले करने से आपको थकान भी होगी और आपका समय भी ज्यादा लगेगा जिससे आप अपने परिवार को टाइम नहीं दे पाएंगे।

What is the opinion of people on sex before and after marriage in India, here came a shocking survey

नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे की नई रिपोर्ट आज कल बहुत सुर्खियों में है। इस सर्वे में भारतीयों से शादी, सेक्स और सेक्सुअल पार्टनर से जुड़े कई सवाल पूछे गए। रिपोर्ट में शादी की उम्र और पहली बार सेक्स करने की उम्र पूरी तरह अलग पाई गई। सर्वे में यह भी जानने का प्रयास किया गया कि क्या भारतीय लोग शादी से पहले सेक्स नहीं करते हैं? आंकड़ों से मालूम चलता है कि वो शादी से पहले शारीरिक संबंध बनाते हैं लेकिन सभी समुदायों में इसका एक अलग पैटर्न है।

शादी से पहले कितने भारतीय करते हैं सेक्स- शादी से पहले सेक्स करने का पुरुषों का अनुपात महिलाओें के विपरीत है, जबकि वो किसी भी समुदाय के हों। सर्वे में औसतन 7.4 फीसदी पुरुषों ने और 1.5 फीसदी महिलाओं ने माना कि उन्होंने शादी से पहले शारीरिक संबंध कायम किए।

What is the opinion of people on sex before and after marriage in India, here came a shocking survey

सर्वे में लगभग 12 फीसदी सिख पुरुषों ने कहा कि उन्होंने शादी से पहले यौन संबंध बनाएं। सभी धार्मिक समुदायों में ये आंकड़ा सबसे ज्यादा है। वहीं, सिख महिलाओं में ये आंकड़ा सिर्फ 0.5 फीसदी का था, जो सबसे कम था। हिंदू पुरुषों में यह आंकड़ा 7.9 फीसदी, मुस्लिम पुरुषों में 5.4 फीसदी, ईसाई पुरुषों में 5.9 फीसदी था। महिलाओं की बात करें तो हिंदुओं में 1.5, मुस्लिमों में 1.4 फीसदी और ईसाई महिलाओं में 1.5 फीसदी ने माना कि उन्होंने शादी से पहले शारीरिक संबंध बनाएं।

आर्थिक हालात को भी इस चीज से जोड़ कर देखा गया जैसे कि अमीर पुरुषों और गरीब महीलाओं में शादी से पहले सेक्स करने की सबसे ज्यादा संभावना पाई गई। शादी के बाहर किसी दूसरे शख्स के साथ शारीरिक संबंध बनाने के कारण महिला और पुरुष दोनों का एक ही व्यावहार देखने को मिला। हालांकि, महिलाएं इसे खुले तौर पर बहुत कम एक्सेप्ट करती हैं। अभी महिलाओं के औसतन सेक्सुअल पार्टनर 1.7 फीसदी हैं जबकि पुरुषों के 2.1 हैं। वर्ष 2006 में हुए NFHS के तीसरे सर्वे की बात करें तो महिलाओं में ये 1.02 और पुरुषों में 1.49 फीसदी था।

पत्नी को सेक्स से इनकार करने का राइट है क्या- शादीशुदा जीवन के अंदर सेक्स पूरी तरह पुरुष प्रधान समाज से जुड़ा हुआ है। सर्वे में 87 फीसदी महिलाओं और 83 फीसदी पुरुषों ने कहा कि पत्नियों का सेक्स से इनकार करना उचित है। हालांकि, सभी स्टेट के बीच यह प्रतिशत अलग अलग है। मेघालय अपने मातृसत्तात्मक समाज के लिए प्रसिद्ध है फिर भी यहां सिर्फ 50 फीसदी पुरुषों ने कहा कि पत्नियां सेक्स से इनकार कर सकती हैं। कई राज्यों में महिलाओं की राय भी यह है। मिसाल के तौर पर, अरुणाचल प्रदेश में लगभग 30 फीसदी महिलाओं ने कहा- जब पति सेक्स करना चाहे तो महिला का मना करना उचित नहीं है।

फोटो सौजन्य- गूगल

Will Bollywood actress Karisma Kapoor marry again at the age of 47?

बॉलीवुड एक्ट्रेस करिश्मा कपूर (Karishma Kapoor) अपने बेहतरीन एक्टिंग से करोड़ों दर्शकों के दिल पर राज कर चुकी हैं। वह पिछले लंबे समय से फिल्मों से दूर हैं लेकिन इसके बावजूद भी वह लाइमलाइट में बनी रहती हैं। बता दें कि आज वह जिस मुकाम पर हैं, वहां फैंस उनकी एक झलक पाने के लिए दीवाने रहते हैं। करिश्मा भी कभी अपने फैंस को निराश नहीं करतीं।

करिश्मा को सोशल मीडिया से है लगाव

असल में, करिश्मा अपने चाहने वालों के साथ जुड़े रहने के लिए सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव रहती हैं। वह अक्सर अपनी फोटोज और वीडियो शेयर कर फैंस का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करती ह। हाल ही में एक्ट्रेस ने फैंस के साथ इंटरैक्ट किया और अपनी पर्सनल लाइफ से जुड़े कई सवालों के जवाब दिए।

करिश्मा का दोबारा है शादी का ख्याल ?

Karishma Kapoor

उन्होंने अपने लाइक्स-डिसलाइक्स पर बातें की। एक्ट्रेस ने बताया कि उन्हें क्या खाना पसंद है और क्या पहनना पसंद है। एक्ट्रेस ने ये भी बताया कि उन्हें रणबीर और रणवीर सिंह में से कौन अच्छा लगता है। करिश्मा के एक चाहने वाले ने उनसे पूछ डाला कि वह दोबारा शादी करेंगी? दिलचस्प बात ये है कि करिश्मा इसपर कुछ ज्यादा रिएक्ट करने से बचती नजर आईं और कन्फ्यूज्ड दिखीं।

क्यों कंफ्यूज हुए करिश्मा के फैंस

फैन के सवाल पर करिश्मा ने जीआईएफ शेयर कर लिखा, ‘डिपेंड्स’- एक्ट्रेस के इस जवाब ने सभी लोगों को कंफ्यूज कर दिया है। बता दें कि करिश्मा ने साल 2003 में बिजनेस संजय कपूर से शादी की थी। इस जोड़े के दो बच्चे हैं- बेटी समायरा और बेटा कियान। साल 2014 में करिश्मा और संजय ने आपसी सहमति से तलाक के लिए अर्जी दी और साल 2016 में दोनों की राहें जुदा हो गई।

पति और पत्नी के रिश्ते

यूं तो शादी जिंदगी का वह पड़ाव हैं जहां दो जिंदगियां ही नहीं, दो परिवारों का मिलन होता है लेकिन कई लोग शादी के बाद भी अकेलापन महसूस करते हैं। कई अध्ययनों से यह साफ हुआ है कि 45 साल से अधिक उम्र के तीन विवाहित लोगों में से एक व्यक्ति अकेलेपन का शिकार होता है। एएआरपी राष्ट्रीय सर्वेक्षण के मुताबिक शादी में अकेलापन महसूस कराना इस बात का संकेत है कि रिश्ते में या आपके निजी जीवन में किसी ना किसी को परेशानी जरूर है। सबसे बड़ा सवाल यह है कि इस अकेलेपन को कैसे दूर किया जाए?

शादी के बाद अगर आपको अकेलापन का एहसास होता है तो यकीन मानें ये टिप्स आपके लिए काफी उपयोगी हो सकती है-

संवाद करें अपने जीवन साथी के साथ-

पति-पत्नी के बीच संवाद जरूरी

हर रिश्ते में कम्युनिकेशन का होना अहम है यानी हर रिश्ते में यह जरूरी है पार्टनर से बात की जाए और जहां कोई भी दिक्कत है उसे जल्द से जल्द हल किया जाए। एक बात समझना जरूरी है कि आपकी तरह आपके पार्टनर भी फील कर रहे हों ये जरूरी तो है नहीं, अब ऐसे में उन्हें आपकी भावनाओं का पता तभी चलेगा जब आप उनसेप अकेला फील कर रहे हैं तो इसका मतलब ये हो गया कि रिश्ते में कोई प्रॉब्लम है। इस वक्त को अपने दोस्तों से मिलने जुलने में लगाएं और चाहें तो कोई क्रिएटिव एक्टिविटी में भी अपना मन लगाएं। खुद के पॉजिटिविटी और क्रिएटिवली इंगेज रखने की हर संभव कोशिश करें।

जानें रिश्ते में बदलाव का कारण

रिश्ते में बदलाव की वजह

अगर आपके रिश्ते में अचानक आए किसी बदलाव से आप दोनों के बीच दूरियां आ सकती है और उसी की वजह से आप अकेला महसूस कर सकती हैं। आप ये समझने में असमर्थ हैं कि क्या बदलाव आया है या कहां एडजस्ट नहीं हो पा रहा है। ऐसी परिस्थिति में मैरिज काउंसलर से बात करें या कोई प्रोफेशनल हेल्प लें। इससे आपको अपने रिश्ते का एक क्लीयर पक्ष जानने और समझने का मौका मिलेगा और एक पॉजिटिव नजरिया भी।

एक-दूजे के प्यार को दें अहमियत

प्यार को समझें

जीवनसाथी से आपका इमोशनल अटैचमेंट जरूरी है। प्यार का एहसास सिर्फ फिजिकल टच, प्यार भरे शब्दों, गिफ्ट देने तक ही नहीं हैं। यह समझना जरूरी है कि आपके पार्टनर क्या चाहते हैं। हो सकता है कि प्यार के मायने उनके लिए दूसरों से थोड़ा हटके हो या फिर शायद उनके प्यार बयां करने का अंदाज औरों से जुदा हो। इमोशनली अटैच रहेंगी तो उन्हें भी समझ पाएंगे और उनके इस अंदाज को भी।

पॉजिटिविट टाइम निकालें

 

पति-पत्नी की आपसी समझ

यह समझना बहुत जरूरी है कि हमें हर चीज के लिए सिर्फ अपने पार्टनर पर निर्भर नहीं रहना चाहिए। यह बिल्कुल भी ज़रूरी नहीं है कि अगर आप अकेला फील कर रही हैं तो इसका मतलब ये हो गया कि रिश्ते में कोई प्रॉब्लम है। इस वक्त को अपने दोस्तों से मिलने जुलने में लगाएं और चाहें तो कोई क्रिएटिव एक्टिविटी में भी अपना मन लगाएं। खुद के पॉजिटिविटी और क्रिएटिवली इंगेज रखने की हर जरूरी कोशिश करें।

सोशल मीडिया से जरा बचके

सोशल मीडिया से बचें

 

आजकल सोशल मीडिया हम सब की लाइफ में बहुत ज्यादा घुसपैठ करने लगा है। शादी की तैयारी से लेकर बेबी शावर तक लोग अपने पर्सनल मोमेंट सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं। लेकिन इसका यह मतलब बिल्कुल भी नहीं है कि आप भी उन मोमेंट्स को देखकर ठीक वैसा ही अपनी लाइफ में भी एक्सपेक्ट करने लगें और वैसा ना होने पर अपने रिश्ते में खामियां निकालना शुरू कर दें।

रिश्ते को जीना सीखें

रिश्ते को जीना सीखें

पति-पत्नी को एक दूसरे को स्पेस देना और एक दूसरे के रिश्ते को इज्जत देना जरूरी होता है। अगर पति या पत्नी शादी से पहले रहे किसी दोस्त से मिलते हैं तो ना तो पत्नी को पति पर शक करना चाहिए और ना ही पति को अपने पत्नी के दोस्ती पर। शादी के बाद भी चाहे पति हो या पत्नी दोनों अपने पूराने दोस्त से मिलने का हक रखते हैं, ये समझना दोनों के लिए जरूरी है। जब हम एक दूसरे के रिश्ते को अहमियत देंगे तो खुद बा खुद रिश्तों में गरमाहट आ जाएगी और रिश्ते को जीना सीख जाएंगे।

फोटो साभार- गूगल

अभिनेत्री दीपिका पादुकोण

चुरा के मुट्ठी में दिल को छुपाए बैठे है,

बहाना ये है कि मेंहदी लगाए बैठे है।।

जी हां, दोस्तों मेंहदी का नाम सुनते ही वो भीनी सी महक हमारे मन को महका जाती है। मेंहदी का उपयोग हम हर त्यौहार, शादी में भरपूर करते है।

वो गोरे गोरे से मेंहदी वाले हाथ किसको पसंद नहीं होते ?

मेंहदी न सिर्फ हाथों की खूबसूरती बढ़ाने के लिए काम आती है बल्कि यह और भी कई स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं का समाधान है।

मेंहदी एक कांटेदार झाड़ी है जो 6 मीटर तक ऊंची होती है। इसके फूल छोटे और लाल रंग के हो सकते है। मेंहदी की भारत में लगभग 600 स्पेसीज पाई जाती है। मेंहदी का प्रयोग औषधि के तौर पर किया जाता है। इससे कई प्रकार के त्वचा रोग , हड्डी रोग में आराम मिलता है।

इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है की इसके इस्तेमाल का कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होता।

तो चलिए जानते है आपकी सेहत और सौंदर्य को निखारने में कितनी कारगर है ये मेंहदी-

मेंहदी

  1. मेंहदी का इस्तेमाल खून साफ करने के लिए किया जाता है। इसके लिए रात भर इसके पत्तों को भिगो कर रखा जाता है और सुबह उस पानी को छान कर पिया जाता है।
  2. अगर किसी के घुटनों में दर्द हो या जोड़ो का दर्द हो तो मेंहदी के पत्तों को पिस कर उसका लेप लगाने से बहुत लाभ होता है। अरंडी के पत्तों को और मेंहदी के पत्तों को बराबर मात्रा में ले और पिस कर लेप बना लें तथा प्रभावित जगह पर लगाने से तुरंत ही आराम मिलता है।
  3. मेंहदी सिर दर्द और माइग्रेन जैसी समस्याओं का भी समाधान करती है। इसके पत्तों का लेप बना कर सिर में लगाना चाहिए जिससे सिर दर्द और माइग्रेन की समस्या से छुटकारा पा सकते है।
  4. अगर कभी शरीर का कोई भी अंग जल जाए तो उसी समय उस पर मेंहदी का लेप लगाना चाहिए। यह जलन को कम कर देगी तथा उस घाव को जल्दी ठीक करने में मदद भी करेगी।
  5. मेंहदी बालों के लिए कंडीशनर का काम करती है। यह एक प्राकृतिक कंडीशनर है। महीने में दो बार इसका इस्तेमाल बालों के लिए करना चाहिए इससे बाल चमकदार, घने और लंबे होंगे।
  6. कई बार शरीर में गर्मी बढ़ जाने के कारण समस्या होने लगती है ऐसे में सलाह दी जाती है कि मेंहदी पाउडर का लेप हाथों और पैरों पर लगाना चाहिए इससे ठंडक मिलती है।
  7. बालों में इसका नियमित इस्तेमाल करने से डैंड्रफ की समस्या बहुत हद तक खत्म हो जाती है।
  8. मेंहदी से हम पथरी जैसी भयानक बीमारी से राहत पा सकते है। इसके लिए आधा लीटर पानी में 500 ग्राम मेंहदी के पत्ते भिगो दे तथा इसको सुबह उबाल लें तथा ठंडा करके इसे दिन में तीन बार पिए। इससे पथरी की समस्या से जल्द राहत मिलेगी।
  9. मेंहदी पेट की आंतों और अल्सर जैसी बीमारी को भी दूर करती है।
  10. अगर आपके बाल बहुत झड़ रहे हो तो आप मेंहदी के पत्तों को पिस कर अपने स्कैल्प में लगाए। दो बार के प्रयोग से ही आप को राहत महसूस होगी।
  11. बालों का रूखापन भी आप मेंहदी से चुटकियों में दूर कर सकते है। मेंहदी पाउडर और दही का पेस्ट बनाएं तथा उसमें कुछ दाने मेथी मिलाए कुछ देर रख दे तथा फिर बालों की जड़ों में इसे लगाए।
  12. मेंहदी के पत्तों से निकलने वाले तेल से आप नींद विकारों को भी दूर कर सकते है। इसके तेल से सिर में हल्के हाथों से मसाज करे तथा से जाए आप पाएंगे कि आप अच्छी नींद का मजा ले पा रहे है।                                                                   फोटो सौजन्य- गूगल
हीरोइनें

कोरोना काल में लॉकडाउन के मद्देनजर हमने कम सुविधाओं में बहुत से काम करना सीख लिया है। कोरोना वायरस से बचाव और लॉकडाउन के हालात में कई न्यूली मैरेड लड़कियों को अपनी शादी पर खुद ही मेकअप करना पड़ जाता है क्योंकि ना तो ज्यादा लोग उनकी शादी में पहुंच पाए जिससे उन्हें मदद मिले, ना ही वह खुद पार्लर जाकर तैयार हो पाईं… अगर आपको भी अपनी शादी पर खुद ही मेकअप करना है तो ये ब्राइडल मेकअप गाइड आपके काम आएगी।

पहले स्किन को करें रेडी

अपनी स्किन के मुताबिक स्किन को मॉइश्चराइज करें। कोई भी बेस लगाने के पहले स्किन का मॉइश्चाराइज होना बहुत जरूरी होता है। अगर स्किन में बड़े गड्ढे हैं, तो पोर मिनिमाइजर यूज करें।

एक अच्छा बेस है जरूरी

शादी में जो सबसे जरूरी बात ध्यान रखना है वो है एक अच्छा बेस। नेचुरल मेकअप करना हो या अपने मेकअप से स्टेटमेंट बनाना हो, दोनों ही तरह के लुक के लिए एक अच्छा बेस बेहद जरूरी है। स्टारटिंग प्राइमर से करने पर स्किन के प्रॉब्लम एरिया को ढक सकें। फिर फाउंडेसन का इस्तेमाल करें और अब कंसीलर से जो स्किन ने प्रॉब्लम एरिया को ढक सकें। फिर फाउंडेशन लगाएं और अब कंसीलर से जो भी कमियां हैं जैसे होठों के पास का कालापन या आंख के नीचे के काले घेरे उन्हें छुपाएं। अब पाउडर से फिनिशिंग टच दें। पाउडर फाउंडेशन और कंसीलर को कम नहीं होने देता है।

आंखों पर करें फोकस

सबसे पहले अपने आइब्रो को सही करें। आइब्रो पर हल्के हाथों से आइब्रो पेंसिल लगाएं, अगर कहीं गैप हो तो उसे पेंसिल से भरें। आइब्रो को परफेक्ट दिखाने के लिए आइब्रो जेल का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। फिर आंखों को सेट करने का टाइम आता है। आंखों की लाइनिंग के लिए ब्लैक या ब्राउन कोल पेंसिल यूज करें। काजल को स्मज कर आंखों को स्मोकी लुक से सवार सकती हैं या चाहे तो विंग्ड आइलाइनर लगा सकती हैं। आइशैडो के लिए ब्रान्ज और गुल्ड शेड्स यूज करें पर आंखों के बाहर की ओर ब्लैक और ब्राउन के शेड ज्यादा यूज करें। अगर शादी का माहौल है तो आप पिंक के साथ गोल्डन, ब्लू या ग्रीन ग्लिटर वाले आइशैडो इस्तेमाल कर सकती हैं। आईशैडो पर मस्कारा लगाना याद रखें। अगर आपने पहले इस्तेमाल कर लिया है तो आप फेक आईलैशेज यूज कर सकती हैं।

कॉन्टूर करना ना भूलें

भले ही आंखें ब्राइडल लुक का फोकल प्वाइंट होती है लेकिन इसका यह मतलब नहीं कि आप चेहरे के दूसरे फीचर्स पर ख्याल ही ना करें। पाउडर या क्रीम से चीक बोन्स के नीचे, जॉ लाइन, फोरहेड और नाक के दोनों साइड कॉन्टूरिंग करें ताकि चेहरा शार्प और खूबसूरत दिखे। अगर इससे चीक पर फैट है या डबल चिन है तो यह कम नजर आते हैं।

हाईलाइट करना भी है जरूरी

ध्यान रहे सिर्फ कॉन्टूरिंग करना ही काफी नहीं होता। चेहरे के हाई प्वाइंट्स जैसे चीक बोन्स, ब्रो बोन्स, आंख के भीतर वाले कोनों पर और आइलिड्स के ठीक ऊपर वाले हिस्से को हाईलाइट करें। इससे फेस ग्लो करेगा और आप दूसरे से अलग दिखेंगी।

लिप्स को करें डिफाइन

अभिनेत्री जेनेलिया

लिप्स को सबसे पहले अच्छी तरह मॉइश्चराइज करें। लिप्स अगर फटे हुए हैं या बहुत ड्राई हैं तो मेकअप शुरू करने के पहले ही लिप्स को स्क्रब कर लें। अब लिपस्टिक के रंग से मैच करता हुआ लिप लाइनर से लिप्स को आउटलाइन करें और फिर लिपस्टिक लगाएं। अगर आपको शाइन पसंद है तो हल्का सा लिप ग्लॉस भी लगाएं।

टच अप है जरूरी

अपने पूरे मेकअप को सेट रखने के लिए फेस पर मेकअप सेट करने वाला मिस यूज कर सकती हैं। इससे मेकअप हेवी और बहुत लेयर्स में नजर नहीं आएगा। जब भी रस्मों के बीच आपको मौका मिले अपने मेकअप में हल्का टच अप करती रहिए।

अपनी स्किन में ऐसे रहे खुश

ये तो सच है कि क्योंकि आपकी शादी है तो हर किसी की नजर आप पर ही होगी पर इसका यह मतलब नहीं हो कि आपको अपनी शादी के दिन बिलकुल अलग दिखना है। आप अपना मेकअप खुद कर रही हैं और सारा कंट्रोल आपके पास है। अपने फीचर्स को हाईलाइट कीजिए, आंखों के साथ फन भी हो, कम मेकअप करना है, कम करिए लेकिन खुश रहिए और मुस्कुराइए क्योंकि मुस्कुराते चेहरे सा कोई चेहरा हसीन नहीं होता है।

फोटो सौजन्य- गूगल